ज़ोंबी ( Zombies ) क्या होते हैं ?

 

तो नमस्कार दोस्तों स्वागत हैं आपका इस information के ब्लॉग सीरिज मे |


आज हम एक ऐसे टॉपिक के ऊपर बात करने वाले हैं जो की एक रहस्य बनकर रह ग ई हैं | तो क्या है आज का टॉपिक ? आज का टॉपिक सिर्फ ओर सिर्फ zombies के ऊपर हैं |


तो कल्पना करो की आप रात का सोकर जाग उठे ओर television के सामने बेठ गये ओर अचानक एक न्यूज लगी की सारे वर्ड मे आदमी आदमिको खा रहा हैं | तो क्या होगा


तो जो होना हैं ओ होणे दो उसे बाहर आवो


तो क्या दोस्तों काहानिके ओर शोज के झोंबी (zombie)असल मे होते हैं |

कहाणी तो कहाणी होती हैं लेकीन विज्ञान की तरफसे zombies को देखा जाये तो मेरे हीसाबसे zombies हो सकते हैं | तो वो कैसे ?




Zombies क्या होते हैं ?


Zombies एक मनुष्य की dead बॉडी होती हैं जो की कोमा मे होती हैं सिर्फ उस्कों ये याद होता हैं की अपने भूक को मि टाणा हैं उसके लिये ओ मनुष्य को भी खा जा सकते हैं | ऐ सा क हा जाता हैं की  झोंबी जब मनुष्य को काट लेता है तो ओ मनुष्य भी झोंबी infect हो जाता है |


जब मनुष्य की दिमाग मे एक neuron के साथ infection को तो कही ड्रग्स की वजसे ब्रेन  को मा मे जाता हैं ओर उस बॉडी को डेड declared किया जाता है लेकीन उसके शरीर के कही सारे function work कर रहे होते हैं | ओर कही बार तो ओ जीवित होता हैं लेकीन उसकी बॉडी धीमी यानी की स्लो हो जाती है |

तो क्या झोंबि हो सकते हैं ?

हा दोस्तों झोंबी हो सकते हैं | तो ओ कैसे चलो तो हम इस्को देखते हैं ?


Brain parasites 


Parasites क्या होता है ?

Parasite एक ऐसा जीव होता हैं जो की दुसरो के शरीर पे अपना जीवन व्यतीत करते हैं

जब ये जीव किसी brain को काबीज करता हैं तो ओ उस दीमाक को खोखला कर देता हैं ओर उसके शरीर को धिमा कर देता हैं | ओर दुसरे आदमी को भी इन्फेक्ट कर देता हैं |


Neuron toxins 


कही सारे toxins  ओर ड्रग्स के सेवन से neuron पर असर हो जाता है ओर उसे दिमाग धीमा हो जाता है | इस केस मे आदमी सिर्फ खाना समजता हैं |

Neuron genesis

आब विज्ञान किस लेवल पे हैं आपको तो पता हैं | ये ऐसी technique हैं जिसमे मनुष के damage tissues को increase किया जाता है ओर repair किया जाता है | उसके कारण मनुष के शरीर मे कही सारे बदलाव आते है |


Nano bots


Nano bots बहुत ही useful होते हैं जो की कॅन्सर ओर कही सारे भयानक बिमारियोंक व्हायरस को मारणे के लिये उन bots को शरीर मे छोड दिया जाता हैं | लेकीन उस वक्त उस आदमी की मोत हो गई ओर ओ bot को उस शरीर से नहीं निकाल ओर वै से ही उसको दफन कर दिया तो ओ नॅनो bots neural connection को बनाय जा सकता है उसे उस आदमी का दिमाग फिर से जिंदा हो सकता है|

तो अब त क के लिये शुक्रीय मि लते हैं जलद ही अग ले ब्लॉग मे |

ONLY RELATED COMMENTS

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post